रिटायर हो चुके दो अफसरों के विरुद्ध भी सीएम ने दिए कड़ी विभागीय कार्यवाही के आदेश, मचा हड़कंप

सत्य पथिक वेबपोर्टल/लखनऊ/Levana Hotel Fire Case: लखनऊ के लेवाना होटल में हुए भीषण अग्निकांड में जांच रिपोर्ट मिलने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 19 दोषी अफसरों में से 17 के निलंबन और रिटायर हो चुके दो अन्य अफसरों के विरुद्ध कड़ी विभागीय कार्यवाही के आदेश दिए हैं।

बता दें कि लखनऊ पुलिस कमिश्नर एसबी शिरोडकर और मंडलायुक्त रोशन जैकब की जांच रिपोर्ट के आधार पर मुख्यमंत्री ने यह सख्त एक्शन लिया है। जांच आख्या में लखनऊ विकास प्राधिकरण (LDA) और अग्निशमन समेत छह विभागों के 19 अफसरों को इस हादसे के लिए सीधे जिम्मेदार माना गया है। एलडीए और अन्य संबंधित विभागों के इन अधिकारियों पर अवैध निर्माण कराने और सुरक्षा मानकों की अनदेखी के गंभीर आरोप हैं। रिटायर हो चुके दोनों अधिकारियों के खिलाफ नियमानुसार विभागीय कार्रवाई के आदेश दिए गए हैं। 17 अन्य दोषी अफसरों को निलंबित कर विभागीय कार्रवाई करने को कहा गया है।

लेवाना होटल अग्निकांड में जिन बड़े अफसरों पर कड़ी कार्रवाई की गाज गिरी है, उनमें लखनऊ के मौजूदा सीएफओ CFO विजय कुमार सिंह, फायर ऑफिसर योगेंद्र प्रसाद, सहायक निदेशक विद्युत सुरक्षा विजय कुमार राव, अवर अभियंता आशीष मिश्रा, उपखंड अधिकारी राजेश मिश्रा भी सस्पेंड किए गए हैं। एलडीए में तैनात तत्कालीन विहित प्राधिकारी महेंद्र कुमार मिश्रा और तत्कालीन आबकारी अधिकारी को भी सस्पेंड कर दिया गया है।

7 इंजीनियर भी किए गए निलंबित
होटल निर्माण के समय एचडी में तैनात रहे 7 इंजीनियर भी सस्पेंड किए गए हैं। रिटायर हो चुके एक इंजीनियर गणेश दत्त सिंह के खिलाफ कार्रवाई के आदेश दिए गए हैं। एलडीए में तैनात रहे तत्कालीन एग्जीक्यूटिव इंजीनियर अरुण कुमार सिंह, ओम प्रकाश मिश्रा, असिस्टेंट इंजीनियर राकेश मोहन, जूनियर इंजीनियर जितेंद्र नाथ दुबे, रविंद्र कुमार श्रीवास्तव और जयवीर सिंह भी सस्पेंड किए गए हैं। एलडीए के मेट रामप्रताप को भी सस्पेंड कर दिया गया है।
आबकारी विभाग के भी तीन अफसर नपे
इसके अलावा आबकारी विभाग के तीन अधिकारी भी सस्पेंड किए गए हैं। इनमें तत्कालीन आबकारी अधिकारी संतोष तिवारी, आबकारी निरीक्षक अमित श्रीवास्तव और उप आबकारी आयुक्त जैनेंद्र उपाध्याय शामिल हैं।

अग्निकांड में हुई थीं 4 मौतें, 10 लोग झुलस गए थे

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में हाल ही में लेवाना होटल में आग लगने से 4 लोगों की मौत हो गई थी और 10 लोग घायल हुए थे। लखनऊ विकास प्राधिकरण द्वारा कुछ दिन पहले ही होटल लेवाना को नोटिस भी जारी किया गया था। हादसे के बाद CM योगी ने मंडलायुक्त और पुलिस कमिश्नर की दो सदस्यीय टीम गठित कर अग्निकांड की जांच के आदेश दिए थे। शुरुआती तौर पर आग लगने की वजह शॉर्ट सर्किट बताई गई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!