मुख्य अतिथि पद से बोले राष्ट्रीय संरक्षक स्वामी केशवानंद-समाजसेवा ही सबसे बड़ी ईश्वर भक्ति

सत्य पथिक वेबपोर्टल/बरेली/Sammelan: भारत सेवक समाज के छठे मंडलीय सम्मेलन में राष्ट्रीय संरक्षक और मुख्य अतिथि स्वामी केशवानंद के हाथों से 20 समाजसेवियों को सम्मानित किया गया।

बरेली में चौपुला के पास रोटरी भवन में आयोजित भारत सेवक समाज के छठे वार्षिक मंडलीय सम्मेलन के मुख्य अतिथि भारत सेवा समाज के संरक्षक स्वामी केशवानंद ने अपने संबोधन में कहा- “समाज सेवा में अग्रणी यह संगठन पूरी तरह से गैर राजनीतिक है। प्रथम प्रधानमंत्री पं० जवाहर लाल नेहरू ने योजना आयोग की जनसहयोग सलाहकार समिति की संस्तुति पर 12 अगस्त 1952 को भारत सेवक समाज की स्थापना एक गैर राजनीतिक, स्वैच्छिक, सामाजिक संस्था के रूप में की थी। इसका पंजीकरण श्रीमती इंदिरा गांधी व शहनवाज खां के हस्ताक्षरों से कराया गया था। पं० जवाहर लाल नेहरू जीवन पर्यन्त इस संस्था के अध्यक्ष बने रहे। उनके बाद गुलजारी लाल नन्दा और बाद में स्वामी हरि नारायणानन्द ने राष्ट्रीय चेयरमैन की हैसियत से कई दशक तक इस देशव्यापी संगठन का बखूबी संचालन किया। हम सब उनके ही दिखाए मार्ग का अनुसरण करते हुए समाज सेवा में लगे हैं। समाज सेवा ही ईश्वर की सबसे बड़ी भक्ति है।”

इस अवसर पर भारत सेवक समाज के महासचिव अजय शुक्ला ने संगठन के बैनर तले आजीवन समाजसेवा का संकल्प दोहराया। मंडल अध्यक्ष सुबोध जौहरी ने बताया कि पिछले वर्षों में इस संगठन के तत्वावधान में गरीब बस्तियों में जरूरतमन्दों के राशन कार्ड बनवाने और साम्प्रदायिक सद्भाव को बढ़ावा देने वाले रोजा अफ्तार, होली मिलन कार्यक्रमों का नियमित आयोजन, महापुरूषों के जन्मदिवस पर अस्पतालों में फलों व बिस्कुट का वितरण, पोलियो उन्मूलन जनजागरण, निःशुल्क चिकित्सा शिविर, विधिक सेवा प्राधिकरण कैम्प, रक्तदान कैम्प, दिव्यांग उपकरण वितरण शिविर जैसे आयोजन होते रहे हैं।

108 बार रक्तदान कर चुके समाजसेवी इकबाल सिंह वाले ने युवाओं से रक्तदान करते रहने की अपील की। सम्मेलन में इकबाल सिंह बाले, वरिष्ठ पत्रकार निर्भय सक्सेना समेत 20 समाज सेवकों को उत्कृष्ट समाज सेवा के लिए सम्मानित भी किया गया।

सम्मेलन में राष्ट्रीय संगठन मंत्री नरेंद्र गुप्ता, राष्ट्रीय महामंत्री इंद्र देव तिवारी, प्रोफ़ेसर महमूद, महेश पंडित, आशुतोष दुबे, कृष्ण स्वरूप सक्सेना, डॉक्टर मेहंदी हसन, वीरेंद्र रायजादा, ब्रजरानी सक्सेना, वीना सक्सेना, हरिंद्र कौर चड्ढा, प्रेम शंकर गंगवार, सुरेश कुमार यादव, सुरेन्द्र बीनू सिन्हा, निर्भय सक्सेना, योगेश ठाकुर, सुरजीत सिंह, के आर वेग, योगेश जौहरी, शरद प्रकाश अग्रवाल, चक्रवाणी तिवारी, विपिन गुप्ता, एडवोकेट प्रवीण शर्मा, डॉ. अजय शर्मा, मोहम्मद कासिम, राकेश कुमार मिश्रा, आईडी उपाध्याय, पूनम दीप एडवोकेट आदि लोग उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन रफिया शबनम ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!