सत्य पथिक वेबपोर्टल/कोलकाता (एजेंसियां)/Bengal teachers recruitment Scam: बंगाल शिक्षक भर्ती घोटाले में बुधवार को (ED) ने अर्पिता मुखर्जी के बेलघरिया में रथतला स्थित दूसरे फ्लैट पर रेड मारकर भारी मात्रा में नकदी जब्त की है। छापे में 29 करोड़ कैश और पांच सोना मिला है। ईडी टीम नकदी, सोना और अन्य कीमती सामान ट्रक में भरवाकर ले गई है।

सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल

सोशल मीडिया पर एक वीडियो भी वायरल हो रहा है। वीडियो में दो हजार और पांच सौ के नोटों का अंबार लगा दिख रहा है। कुछ पैकेट भी हैं जिनमें नोट भरे हैं। पास बैठा एक आदमी नोटों को गिनकर गड्डी बना रहा है।

चार नोट काउंटिंग मशीनें मंगवाईं
भारी मात्रा में कैश मिलने पर ईडी के आला अफसर भी मौके पर पहुंच गए और नोट गिनने के लिए चार मशीनें मंगवाईं। मशीनों से नोट गिनने में भी दस घंटे लगे। ईडी 29 करोड़ रुपये कैश और पांच किलो सोने की बरामदगी का दावा कर रही है। कैश और सोना फ्लैट के टाॅयलेट में छुपाकर रखा गया था।इससे पहले भी अर्पिता के फ्लैट से 20 करोड़ रुपये कैश मिला था। इस तरह अब तक उनके दो घरों से करीब 40 करोड़ रुपये बरामद हो चुके हैं। 

कैश गिनने को पांच बैंककर्मी बुलवाए
भारी मात्रा में नगदी मिलने के बाद ईडी (ED) अधिकारियों को नोट गिनने के लिए पांच बैंककर्मियों को लगाना पड़ा।

रेड में शामिल रहे ईडी के 14 अफसर
अर्पिता मुखर्जी (Arpita Mukherjee) के फ्लैट का ताला तोड़कर ईडी के अधिकारी अंदर गए और जांच शुरू की तो नगदी का पहाड़ देखकर उनके होश उड़ गए। उन्होंने इसकी जानकारी ईडी के उच्चाधिकारियों को दी। तुरंत ज्वाइंट डायरेक्टर स्तर के और अन्य अधिकारी फ्लैट पर पहुंच गए। ईडी के कुल 14 अधिकारी पूरे समय घटनास्थल पर मौजूद रहे।

टीएमसी ने किया किनारा
तृणमूल कांग्रेस के प्रवक्ता कुणाल घोष ने कहा कि कैबिनेट मंत्री पार्थ चटर्जी की सहयोगी के घर से भारी मात्रा में नगदी की बरामदगी पार्टी और हम सभी के लिए शर्म की बात है। पार्टी आलाकमान जन भावनाओं को ध्यान में रखते हुए जल्द ही जरूरी कदम उठाएगी। उनके इस बयान के बाद अब पार्थ चटर्जी से उनकी कैबिनेट मंत्री की कुर्सी कभी भी छिन सकती है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!