सत्य पथिक वेबपोर्टल/लखनऊ/scam in transfers: यूपी में स्वास्थ्य विभाग के बाद अब लोक निर्माण विभाग (PWD) में भी तबादलों में बड़ा घोटाला प्रकाश में आया है। अनियमितताओं से खफा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस मामले में उच्चस्तरीय कमेटी गठित कर जांच बैठा दी है। APC मनोज कुमार सिंह जांच कमेटी की अध्यक्षता करेंगे। अपर मुख्य सचिव संजय भूसरेड्डी को भी जांच कमेटी का सदस्य बनाया गया है।

इससे पहले सीएम योगी ने बड़ा एक्शन लेते हुए सरकारी अस्पतालों में डॉक्टरों के तबादले के मामले में जांच के आदेश दिए थे। सीएम योगी ने डॉक्टरों के तबादले के मामले में अपर मुख्य सचिव (गृह) अवनीश अवस्थी और संजय भूसरेड्डी से 2 दिन में रिपोर्ट मांगी है। इन तबादलों पर डिप्टी सीएम और स्वास्थ्य मंत्री ब्रजेश पाठक ने सवाल उठाए थे।

स्वास्थ्य मंत्री को बताए बगैर किए थे ताबड़तोड़ तबादले

दरअसल, डिप्टी सीएम और स्वास्थ्य मंत्री ब्रजेश पाठक को जानकारी दिए बिना ही अतिरिक्त मुख्य सचिव (स्वास्थ्य) अमित मोहन प्रसाद ने डॉक्टरों के तबादले का आदेश और उनकी लिस्ट भी जारी करवा दी थी। अचानक बड़े पैमाने पर हुए इस फेरबदल से कई जिलों के अस्पतालों में डॉक्टरों की किल्लत पैदा हो गई थी।

स्वास्थ्य मंत्री की चिट्ठी पर भी नहीं मिला माकूल जवाब

डिप्टी सीएम-हेल्थ मिनिस्टर ब्रजेश पाठक ने नाराजगी जताई थी कि हैदराबाद में बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में रहने के दौरान डॉक्टरों की तबादला सूची जारी कर दी गई। वापसी पर अतिरिक्त मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद को चिट्ठी लिखकर पूछा भी कि राज्य भर में डॉक्टरों के स्थानांतरण में उचित प्रक्रिया का पालन नहीं किया गया है लेकिन संतोषजनक जवाब नहीं दिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!