हैदराबाद में शनिवार से शुरू हो रही राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में बनेगी रणनीति

सत्य पथिक वेबपोर्टल/नई दिल्ली: BJP on Mission South: महाराष्ट्र में सत्ता पर काबिज होने के साथ ही भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने पश्चिमोत्तर क्षेत्र में अपनी स्थिति मजबूत कर ली है और अब उसकी नजर दक्षिणी राज्यों खासकर तेलंगाना पर है। कल शनिवार से तेल॔गाना में भाजपा राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में Mission South पर गंभीर विचार-विमर्श और ठोस रणनीति तय होने की पूरी उम्मीद है।

बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की यह बैठक पांच वर्ष के अंतराल के बाद हो रही है। वर्ष 2014 में केंद्र की सत्ता में आने के बाद बीजेपी राष्ट्रीय कार्यकारिणी की यह तीसरी बैठक है।

18 साल बाद हैदराबाद को मिला मौका
भाजपा राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक हैदराबाद में 18 वर्ष बाद हो रही है। तेलंगाना समेत दक्षिण के राज्यों में पांव पसारने की बीजेपी की कोशिशों के तहत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तीन जुलाई को हैदराबाद में एक बड़ी रैली भी करेंगे।

हैदराबाद में बीजेपी की यह बैठक ऐसे समय में हो रही है, जब पार्टी तेलंगाना में अपने पैर पसारने की पुरजोर कोशिशों में लगी है और बीजेपी को चुनौती देने के लिए तेलंगाना के मुख्यमंत्री-तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) के प्रमुख के. चंद्रशेखर राव राष्ट्रीय स्तर पर विपक्षी दलों के एक व्यापक गठबंधन को स्वरूप देने की कोशिश में जुटे हैं।

राष्ट्रीय कार्यकारिणी की महत्वपूर्ण बैठक की तैयारियों के मद्देनजर पिछले कुछ दिनों में देश भर से आए बीजेपी नेताओं ने तेलंगाना के सभी 119 निर्वाचन क्षेत्रों में पार्टी कार्यकर्ताओं से संवाद किया है। वर्ष 2020 में ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम और हुजुराबाद एवं दुब्बाका निर्वाचन क्षेत्रों के उपचुनाव सहित कुछ हालिया चुनावों में बेहतरीन प्रदर्शन से भी भाजपाई उत्साहित हैं। 2019 के लोकसभा चुनाव में भाजपा ने तेलंगाना की चार सीटों पर जीत हासिल की थी।

भाजपा राष्ट्रीय कार्यकारिणी की दो दिवसीय बैठक कल शनिवार दोपहर पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के भाषण से शुरू होगी और रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संबोधन से समाप्त होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!