सत्य पथिक वेबपोर्टल/बरेली/Light Metro in Bareilly: बरेली शहर वासियों को सरकार 2024 के लोकसभा चुनाव से पहले लाइट मेट्रो ट्रेन की सौगात देने की तैयारी में है। बरेली में लाइट मेट्रो रेल परियोजना को धरातल पर उतारने के लिए लखनऊ से आई रेलवे की राइट्स टीम ने बरेली विकास प्राधिकरण और नगर निगम अधिकारियों के साथ बैठक कर घंटों विचार मंथन किया।

अफसरों ने पहले फेज में एयरपोर्ट से पीलीभीत रोड, सेटेलाइट बस अड्डा-बरेली जंक्शन तक के 20 किलोमीटर लंबे रूट पर लाइट मेट्रो पर मुहर लगाई है। लाइट मेट्रो के ट्रैक और स्टेशनों के निर्माण पर ₹3000 करोड़ रुपये खर्च होने का अनुमान हैं। बुधवार को  बरेली विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष जोगिंदर सिंह की अध्यक्षता में राइट्स संस्था के वरिष्ठ उप महाप्रबंधक पुष्पेंद्र सिंह, प्रबंधक अमित कुमार और नगर निगम के चीफ इंजीनियर भूपेश सिंह ने बरेली में लाइट मेट्रो प्रोजेक्ट के पहले फेज को लेकर मंथन किया।

तीन घंटे चली बैठक में तय हुआ कि पहले फेज में लाइट मेट्रो का संचालन एयरपोर्ट से पीलीभीत रोड होते हुए सेटेलाइट बस अड्डा, कचहरी, बरेली जंक्शन रोड तक होगा। यह पूरा एयरपोर्ट रूट 20 किलोमीटर लंबा रहेगा। सर्वे के बाद 20 किलोमीटर लंबे ट्रैक पर चिह्नित स्थानों पर स्टॉपेज बनाएंगे। साथ ही एयरपोर्ट के पास मेट्रो डिपो भी बनवाया जाएगा।

राइट्स टीम तमाम प्रक्रिया पूरी होने के बाद 3 अक्टूबर तक डीपीआर तैयार करेगी। जिसका खर्च विकास प्राधिकरण देगा। सब कुछ ठीक रहा और परियोजना पर तेजी से काम हुआ तो अगले 2 साल के भीतर बरेली स्मार्ट सिटी में शहरियों को लाइट मेट्रो का सफर करने को मिल सकता है।

अफसरों से मिली जानकारी के अनुसार, लाइट मेट्रो स्टेशन ओपन रहेंगे। स्मार्ट सिटी बरेली में पहले मेट्रो संचालन की योजना बनाई गई थी। लेकिन बरेली में ट्रैफिक कम होने के कारण यहां लाइट मेट्रो पर सहमति बनी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!