सत्य पथिक वेबपोर्टल/बरेली/doctors & staff honoured: ब्रह्माकुमारीज संस्था बरेली द्वारा खुशलोक अस्पताल हॉस्पिटल में शुक्रवार को हॉस्पिटल से जुड़े डॉक्टर्स और समस्त स्टाफ को वैश्विक महामारी कोरोना के संक्रमण काल में मरीजों की जान बचाने के उनके सराहनीय योगदान पर सम्मानित किया गया।

संस्था की नीता बहन ने बताया कि आध्यात्मिक संस्था वर्ष 1936 में प्रारंभ हुई थी। आज 140 देशों में ब्रह्माकुमारीज के लगभग 5000 सेवा केंद्रों से लाखों लोग जुड़े हैं। ब्रह्माकुमारीज की सहयोगी संस्था राजभोग एजुकेशन एवं रिसर्च फाउंडेशन के मेडिकल विभाग द्वारा ऐसे सम्मान कार्यक्रम आजादी के 75 वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में अमृत महोत्सव के अंतर्गत देश भर में आयोजित किए जा रहे हैं।

खुशलोक हॉस्पिटल के संस्थापक डाॅ. विनोद पागरानी ने बताया कि बरेली में कोविड-19 के इलाज के लिए सर्वप्रथम उन्हें और उनके अस्पताल को ही चुना गया था। उन्होने अपनी चिकित्सीय और सहयोगी टीम को पहले से ही तैयार कर लिया था। मरीजों के डर को मिटाने के लिए डॉक्टरों ने स्वयं आगे रहकर उनकी देखभाल की और सहयोगी स्टाफ ने भी भरपूर सपोर्ट की थी।

आजादी के 75 वर्ष में खुशलोक हॉस्पिटल में सभी डॉक्टर्स और सहयोगी स्टाफ समेत कुल 75 लोगों को माउंट आबू अंतरराष्ट्रीय मुख्यालय से आए ब्रह्माकुमारीज के प्रचारकों द्वारा प्रशस्ति पत्र प्रदान किए गए। इस अवसर पर खुशलोक अस्पताल के डॉ. विनोद पागरानी, डॉ. मुक्ता पागरानी, डॉ. शशांक गुप्ता, डॉ. प्रियंका, डॉ. रजत अग्रवाल का विशेष सहयोग रहा। ब्रह्मकुमारी संस्था के नेहा बहन, लवी बहन, डॉ. रामकुमार, रवि गुप्ता, मोहित वर्मा, अनूप भाई, अशोक का भी सहयोग रहा। कार्यक्रम का सफल संचालन रजनी बहन द्वारा किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!