पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भाजपा पर लगाए गंभीर आरोप, कहा-मुझे गिरफ्तार करके दिखाए

सत्य पथिक वेबपोर्टल/कोलकाता/Mamta Banerji attacks BJP: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अगले कुछ दिनों में तृणमूल कांग्रेस के कई और नेताओं-मंत्रियों की गिरफ्तारी की आशंका जताई है। भाजपा पर काले धन से विधायकों को खरीदने और केंद्रीय जांच एजेंसियों का बेजा इस्तेमाल करके चुनी हुई विपक्षी राज्य सरकारों को गिराने की साजिश रचने का गंभीर आरोप भी लगाया है।

सुश्री बनर्जी तृणमूल कांग्रेस के छात्र संगठन के स्थापना दिवस पर सोमवार को कोलकाता में आयोजित जनसभा को संबोधित कर रही थीं। उन्होंने कहा-“महाराष्ट्र में विधायकों को अपने पाले में खींचकर सरकार गिरा दी गई। झारखंड में भी सत्तापलट की कोशिश की गई लेकिन हमने इन्हें पकड़ लिया।” सवाल उठाया-“भाजपा के शहंशाहों को सरकारें गिराने के लिए इतने रुपये मिल कहां से रहे हैं? बंगाल में चुनी हुई सरकार को गिराने की मंशा से तृणमूल कांग्रेस के नेताओं-मंत्रियों को एक-एक करके गिरफ्तार किया जा रहा है। तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं का मनोबल तोड़ने के लिए ही ईडी-सीबीआई की छापेमारी चल रही है।”

ममता बनर्जी ने जनसभा में उन नेताओं-मंत्रियों के नाम भी बताए, जिनकी गिरफ्तारी की उन्हें आशंका है। बोलीं-‘आज अभिषेक (बनर्जी) ने अच्छा भाषण दिया है, इसलिए मुमकिन है कि कल केंद्रीय जांच एजेंसियां उन्हें भी तलब कर लें। उसके बाद उसकी पत्नी रुजिरा व दो साल के बच्चे को भी पूछताछ के लिए बुलाया जा सकता है।” मुख्यमंत्री ने कहा “वे (भाजपाई) सोच रहे हैं कि अभिषेक (बनर्जी), अरूप (बिश्वास) और बाबी (फिरहाद हकीम) को गिरफ्तार कर लेने से तृणमूल चुनाव नहीं जीत पाएगी। अगर बाबी को गिरफ्तार किया गया और बहुत सारी संपत्ति बरामद हुई तो समझ जाइएगा कि यह सोची-समझी साजिश है।”

तृणमूल के बाहुबली नेता अनुब्रत मंडल का किया बचाव
ममता ने मवेशी तस्करी कांड में गिरफ्तार तृणमूल के बाहुबली नेता अनुब्रत मंडल का फिर बचाव करते हुए कहा कि केष्टो (अनुब्रत) जैसा मददगार नहीं मिल सकता। साथ ही कहा-“पार्थ (चटर्जी) ने क्या किया है, मुझे नहीं पता? यह मामला विचाराधीन है, लेकिन तृणमूल के खिलाफ दुष्प्रचार किया जा रहा है।”

भाजपा को चुनौती देते हुए ममता बनर्जी ने कहा-“हिम्मत है तो मुझे गिरफ्तार करके दिखाए। गिरफ्तारी हुई तो भी जेल से ही चुनाव लड़ूंगी और जीतूंगी भी।” बिलकिस बानो के समर्थन में कोलकाता में दो दिवसीय धरने का ऐलान भी किया।

शिक्षकों की नियुक्ति में गड़बड़ी की बात मानी

मुख्यमंत्री ने स्वीकार किया कि शिक्षकों की नियुक्ति में कुछ अनियमितताएं हुई हैं लेकिन उनकी संख्या सीमित बताई।
अपने परिवार के सदस्यों की संपत्ति में वृद्धि को लेकर कोलकाता हाई कोर्ट में दायर किए गए मामले पर ममता ने कहा-“यह केस तो अंतरराष्ट्रीय अदालत में चलना चाहिए।” सीएम सुश्री बनर्जी ने कहा-“केंद्र में मंत्री रहने की वजह से मैं एक लाख रुपये की पेंशन की हकदार हूं, लेकिन मैंने कभी एक रुपया भी नहीं लिया है। मुख्यमंत्री पद का वेतन भी नहीं लेती हूं।” 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!