सत्य पथिक वेबपोर्टल/एटा-उत्तर प्रदेश/दबंगई: एटा की सदर तहसील क्षेत्र के गांव हिम्मतनगर बझेरा में शिव मंदिर की जमीन पर कुछ लोगों ने दबंगई दिखाते हुए कब्जा कर लिया। सोमवार को जब अनुसूचित जाति के लोग मंदिर में पूजा करने पहुंचे तो इन सबको दबंगों ने गाली-गलौज कर भगा दिया। विरोध में दलित समाज के बहुत से महिलाओं-पुरुषों ने कलक्ट्रेट पहुंचकर जोरदार प्रदर्शन किया और आरोपियों पर कड़ी कार्रवाई की मांग उठाई। 

विरोध प्रदर्शन करते पीड़ित ग्रामीण।

कलक्ट्रेट पहुंचे गांव हिम्मतनगर बझेरा के रामखिलाड़ी, मथुरा प्रसाद, नेम सिंह, रामभरोसे आदि ने बताया कि गांव में किला पर अनसूचित जाति के लोगों ने शिव मंदिर और आश्रम बनवाया था। इस पर गांव के ही कुछ लोगों ने झोपड़ी आदि डालकर अवैध कब्जा कर लिया है। साथ ही मंदिर से घंटे, शिवलिंग, मूर्तियां चुरा ली गईं और आश्रम के कई हरे-भरे पेड़ भी काट डाले गए हैं। 

मंदिर के पुजारी को भी पीटकर भगाया

पीड़ितों ने आरोप लगाया कि जब वे लोग पूजा के लिए मंदिर जाते हैं तो आरोपी गाली गलौज कर धमकाते हुए भगा देते हैं। दस-बारह लोगों को पीट चुके हैं। मंदिर की देखरेख करने रहने वाले पुजारी बाबा अजीत को भी पीटकर दिया गया। नौ जुलाई को थाने में शिकायत करने पर पुलिस ने दो लोगों को पकड़ा भी था, लेकिन बाद में दोनों को बगैर कार्रवाई किए छोड़ दिया। आज सावन के पहले सोमवार पर दबंगों ने दलित समुदाय के महिलाओं-पुरुषों को पूजा नहीं करने दी। 

राजस्व, पुलिस की संयुक्त टीम निपटाएगी विवाद

इस संबंध में एडीएम प्रशासन आलोक कुमार ने बताया कि गांव हिम्मतनगर बझेड़ा के कुछ लोग आए थे। उन्होंने शिव मंदिर पर कब्जा करने का आरोप लगाया है। इस पर राजस्व और पुलिस की टीम बनाकर विवाद का निस्तारण करने के निर्देश दिए हैं। 
 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!