सत्य पथिक वेबपोर्टल/नई दिल्ली/Draupadi Murmu will be 15th President: द्रौपदी मुर्मू राष्ट्रपति चुनाव जीत लिया है. द्रौपदी मुर्मू देश की 15वीं राष्ट्रपति बन गई हैं। वह पहली आदिवासी और दूसरी महिला राष्ट्रपति के रूप में 25 जुलाई को शपथ लेंगी। मुर्मू ने राष्ट्रपति चुनाव में कुल 64% वोट हासिल कर विपक्ष के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा को बड़े अंतर से परास्त कर दिया। हराया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने द्रौपदी मुर्मू के घर जाकर उन्हें जीत की बधाई दी है।

मुर्मू की जीत तो तीसरे राउंड में ही तय हो गई थी। चौथे और आखिरी राउंड की गिनती के बाद उन्होंने अपनी जीत के अंतर को और बढ़ा लिया।

राष्ट्रपति चुनाव के वोटों की गिनती कुल चार राउंड में हुई। कुल 4754 वोट पड़े थे। 4701 वोट वैध और 53 वोट अमान्य पाये गए। इनमें से द्रौपदी मुर्मू को कुल 2824 यानि 64% वोट मिले। इनकी वैल्यू 676803 थी। वहीं यशवंत सिन्हा को I877 वोट मिले जिनकी वैल्यू 380177 रही।

तीन राज्यों में खाता ही नहीं खुला सिन्हा का
द्रौपदी मुर्मू को हर राज्य से वोट मिले लेकिन सबसे ज्यादा वोट उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र और आंध्र प्रदेश से मिले जबकि पंजाब और दिल्ली में सबसे कम वोट मिले हैं। दूसरी तरफ विपक्ष के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा का तीन राज्यों में खाता भी नहीं खुल सका। सिन्हा को आंध्र प्रदेश, सिक्कम और नागालैंड में एक भी वोट नहीं मिला। सिन्हा को वोट के मूल्य के हिसाब से सबसे ज्यादा वोट पश्चिम बंगाल और यूपी में मिले हैं।

राउंड दर राउंड जीतती गईं मुर्मू

  • द्रौपदी मुर्मू पहले राउंड से ही यशवंत सिन्हा से आगे चल रही थीं। पहले राउंड में मुर्मू ने 3,78,000 की वैल्यू के साथ 540 वोट हासिल किए। वहीं सिन्हा 1,45,600 की वैल्यू के साथ 208 वोट हासिल कर पाए। इस राउंड में कुल 15 वोट अवैध निकले।
    -दूसरे राउंड में 10 राज्यों के वोटों की गिनती हुई। कुल वैध मत 1138 थे जिनकी कुल वैल्यू 1,49,575 थी। मुर्मू को 809 वोट मिले, जिनकी वैल्यू 1,05,299 और सिन्हा को 329 वोट मिले, जिनकी वैल्यू 44,276 थी।
  • तीसरे राउंड के वोटों की गिनती के बाद साफ हो गया कि मुर्मू ही देश की अगली राष्ट्रपति होंगी। इस राउंड में कुल 1,333 वोटों की वैल्यू 1,65,664 थी। इसमें से मुर्मू को 812 और सिन्हा को 521 वोट मिले।

पीएम मोदी ने घर जाकर दी बधाई
द्रौपदी मुर्मू के राष्ट्रपति का चुनाव जीतने पर देश भर में खुशी का माहौल है। दिल्ली के रायसिना हिल्स से उनके गांव रायरंगपुर तक जोरदार जश्न मनाया गया। . पीएम नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने द्रौपदी मुर्मु के घर जाकर उनको बधाई दी। विपक्ष के नेता राहुल गांधी, सोनिया गांधी, ममता बनर्जी, अरविंद केजरीवाल ने भी मुर्मू को बधाई संदेश भेजे हैं।

यह है व्यक्तिगत परिचय

द्रौपदी मुर्मू का जन्म 1958 में ओडिशा के मयूरभंज में हुआ था। 1979 में उन्होंने भुवनेश्वर के रमादेवी कॉलेज से बीए की पढ़ाई की थी। 1997 में राजनीति में उतरीं और बीजेपी में शामिल हो गईं। उसी साल पार्षद बनीं। 2000 में रायरंगपुर से विधायक चुनी गईं। उसी साल ओडिशा सरकार में उन्हें मंत्री बनाया गया। 2009 में दोबारा विधायक चुनी गईं। 2015-2021 तक वह झारखंड की राज्यपाल भी रहीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!