सत्य पथिक वेबपोर्टल/नई दिल्ली/EFTA with Australia: भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच अंतरिम मुक्त व्यापार समझौता (ईएफटीए) गुरुवार यानी आज से लागू हो जाएगा। इसके बाद अब भारत के छह हजार से ज्यादा उत्पादों के निर्यात पर ऑस्ट्रेलिया में कोई शुल्क नहीं लगेगा।

इस महत्वपूर्ण और बहुप्रतीक्षित समझौते पर दो अप्रैल, 2022 को हस्ताक्षर किए गए थे।
यह समझौता लागू होने से कपड़ा एवं परिधान, चमड़ा, फर्नीचर, आभूषण, मशीनरी, कृषि और मछली उत्पाद,, जूते, खेल सामग्री और बिजली उपकरणों जैसी लगभग छह हजार भारतीय वस्तुओं का ऑस्ट्रेलियाई बाजार में शुल्क मुक्त निर्यात संभव हो सकेगा। निर्यातकों और उद्योग क्षेत्र के दिग्गजों के मुताबिक, यह समझौता करीब पांच वर्षों में द्विपक्षीय व्यापार को दोगुना कर 45-50 बिलियन अमेरिकी डॉलर तक पहुंचाने में मदद करेगा। आर्थिक सहयोग और व्यापार समझौता (ईसीटीए) लागू होने से श्रम प्रधान क्षेत्रों में अत्यधिक लाभ होगा।

भारत को पहले दिन से ही मिलेगा लाभ: फियो

फेडरेशन ऑफ इंडियन एक्सपोर्ट ऑर्गेनाइजेशन (एफआईईओ-फियो) के उपाध्यक्ष खालिद खान ने कहा कि ऑस्ट्रेलिया भारतीय निर्यातकों के लिए प्रमुख बाजारों में से एक है। उन्होंने कहा, यह समझौता लागू होने के दिन यानी 29 दिसंबर से हमारे लिए उद्योग और व्यापार को नई ऊंचाइयों पर पहुंचाने के अवसर कई गुना बढ़ जाएंगे। उन्होंने बताया-ईएफटीए के तहत ऑस्ट्रेलिया पहले ही दिन से मूल्य के लिहाज से करीब 96.4 फीसदी निर्यात शून्य-शुल्क पहुंच की पेशकश कर रहा है। इसमें कई ऐसे उत्पाद शामिल हैं, जिस पर ऑस्ट्रेलिया अभी पांच फीसदी तक सीमा शुल्क लगाता है। भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 2021-22 में 8.3 अरब डॉलर का निर्यात किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!