सत्य पथिक वेबपोर्टल/बरेली/Bhagwat Katha: मनोहर भूषण इंटर कॉलेज प्रांगण में चल रहे श्री लक्ष्मी नारायण महायज्ञ के चौथे दिन बुधवार को भी विशेष पूजन एवं हवन में सैकड़ों श्रद्धालुओं ने भाग लिया और हवन सामग्री एवं मंत्रोच्चारण करते हुए आहुतियां दीं।

वृंदावन से पधारे यज्ञाचार्य आशुतोष मिश्रा और राजीव नारायण मिश्रा ने सैकड़ों भक्तजनों की उपस्थिति में पूर्ण विधि-विधान के साथ यज्ञ अनुष्ठान संपन्न कराया। बाद में शाम 4:00 बजे से भागवत कथा का आयोजन किया गया जिसमें महंत श्री गोपालानंद ब्रह्मचारी महाराज जी द्वारा भागवत कथा का सुंदर संगीतमय गुणगान किया गया। कथा वाचक गोपालानंद जी महाराज ने भागवत कथा के दौरान मोहिनी रूप बनाकर भक्तों को सम्मोहित किया जबकि बिहारीजी ने भजन गाकर मंत्रमुग्ध कर दिया।

कथाव्यास ने राजा बलि की कथा का वर्णन करते हुए कहा कि वामन अवतार में नारायण ने उनकी परीक्षा ली थी। आज जरा सा भगवान भक्ति में आ जाओ तो लोग उलाहना देते हैं लेकिन हमें भक्ति में लगे रहना चाहिए। ठाकुर जी सबका ध्यान रखते हैं। मैं भगवान का हूँ और भगवान मेरे हैं जैसे एक बार गजराज ने शक्ति का अहम त्याग कर प्रभु को पुकारा। उन्होंने यज्ञ की महिमा का बखान करते हुए कहा कि यज्ञ में सेवा अवश्य करना चाहिए जो व्यक्ति यज्ञ करता है उसमें स्वाहा-स्वाहा करने वाले के हाथ रत्नमय हो जाते हैं। कल यहां पर लक्खा के शिष्य सत्यम सक्सेना के द्वारा खाटू श्याम गुणगान की संध्या की जाएगी।

कथा में आयोजन समिति के सदस्य पंडित पंकज पाठक, जनसंपर्क प्रभारी ठाकुर राहुल सिंह, महंत राजेश शर्मा, आचार्य हेमंत शांडिल्य, आचार्य अनुज मिश्रा, नामित पार्षद पूनम गौतम और शशि कांत गौतम, ङसचिव विनोद मिश्रा, किशन मौर्या, मुकेश सागर, ओमपाल गंगवार, राधा सिसोदिया, सृष्टि शर्मा, अनुराग शर्मा, शिवानी कश्यप, गजेंद्र यादव, अनिल गोस्वामी, फतेह सागर, संस्कृति शर्मा आदि सदस्य उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!