सत्य पथिक वेबपोर्टल/रामपुर/Agitation: भारतीय किसान संघ के कार्यकर्ताओं ने शुक्रवार को सिविल लाइन्स रामपुर के अंबेडकर पार्क में विशाल धरना दिया और जुलूस की शक्ल में जिला कलेक्ट्रेट रामपुर पहुंचकर डीएम और पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन सौपा। ज्ञापन में कथित फर्जी बैनामा रद्द कराने और भूमाफिया के विरुद्ध एफआईआर दर्ज कराने की मांग की गई है।

अंबेडकर पार्क में धरना स्थल पर सभा में भारतीय किसान संघ के जिला अध्यक्ष आदेश शंखधार ने किसानों-मजदूरों को संबोधित करते हुए बताया कि तहसील व थाना मिलक का दिमागी तौर पर कमजोर एक नशेड़ी व्यक्ति अपने पिता की हत्या के केस में कई वर्ष जेल में सजा काट चुका है। गांव में रहने व खाने का ठिकाना भी नहीं है। इधर-उधर भीख मांगकर गुज़र-बसर कर रहा था। इसके पास आधार कार्ड तक नहीं था।

भारतीय किसान संघ जिलाध्यक्ष श्री शंखधार का आरोप है कि गांव के ही कुछ भूमाफियाओं ने साजिश के तहत उसे गांव से ले गए और 17 अगस्त 2022 को उसका आधार कार्ड बनवाकर पिता की सम्पत्ति में उसका नाम वारिसान के तौर पर 08 सितम्बर 2022 को दर्ज़ कराया गया। 11 सितम्बर 2022 को दूसरे गांव में ले जाकर बंधक बनाकर ख़ूब नशा कराया और दो दिन बाद 13 सितम्बर 2022 को मिलक तहसील ले जाकर उसकी पैतृक संपत्ति का धोखाधड़ी से अपने नाम बैनामा करा लिया। बयनामा के दौरान दो लाख रुपए नक़द देने और तीन लाख नब्बे हज़ार रुपए बयनामे से पहले चेक से पेमेंट करना दर्शाया है जो कि पूरी तरह से गलत व निराधार है क्योंकि उक्त व्यक्ति के नाम से किसी भी बैंक में कोई खाता नहीं है। बैनामा कराने के बाद आरोपी उस व्यक्ति को उसके गांव के पास नशे की हालत में छोड़कर चले गए।

गाँववालों को पीड़ित ने आपबीती सुनाई तो गाँव में रोष फैल गया। उसके बाद सभी ने मिलकर थाना मिलक, उप निबंधक और उपजिलाधिकारी मिलक को प्रार्थनापत्र देकर अवगत कराया लेकिन अधिकारियों द्वारा कोई भी कार्यवाही नहीं की गई। इसके बाद आज शुक्रवार को डीएम और पुलिस अधीक्षक रामपुर को ज्ञापन देकर कार्यवाही की मांग की गई है। धरना, जुलूस और ज्ञापन देने वालों में राहुल भारद्वाज, चन्द्र प्रकाश गंगवार, अरविन्द गंगवार, प्रमोद गुप्ता, प्रेम बहादुर गंगवार, पवन गंगवार, सुनील शर्मा, उवैस खान, राम प्रकाश, कलयान, छत्रपाल, धर्मेन्द्र, अशोक, शिशु पाल, शतीश, सुरेश, गंगाराम, सीमा, कृष्ण पाल आदि सैकड़ों किसान-मजदूर शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!