सत्य पथिक वेबपोर्टल/बर्मिंघम-इंग्लैंड/India in CWG: भारतीय महिला क्रिकेट टीम राष्ट्रमंडल खेलों के सेमीफाइनल में पहुंच गई है। उसने अपने तीसरे ग्रुप मैच में बारबाडोस को 100 रन से हरा दिया। राष्ट्रमंडल खेलो की टी-20 क्रिकेट इवेंट में भारत की यह दूसरी सबसे बड़ी जीत है।

इससे पहले उसने 2018 में मलेशिया को 142 रन से हराया था। भारतीय टीम इस जीत के बाद ग्रुप-ए में दूसरे स्थान पर पहुंच गई। ऑस्ट्रेलिया पहले पायदान पर काबिज है। वहीं, बारबाडोस और पाकिस्तान की टीमें बाहर हो चुकी हैं।

बारबाडोस ने टॉस जीतकर भारत को बल्लेबाजी के लिए आमंत्रित किया। भारतीय महिलाओं ने निर्धारित 20 ओवर में चार विकेट पर 162 रन बनाए। जवाब में बारबाडोस की टीम 20 ओवर में आठ विकेट पर 62 रन ही बना सकी।  टीम इंडिया के लिए रेणुका सिंह ठाकुर ने घातक गेंदबाजी करते हुए चार विकेट लिए। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भी उन्होंने चार विकेट झटके थे।

स्मृति मंधाना का नहीं चला बल्ला
भारत की शुरुआत खराब रही। पाकिस्तान के खिलाफ विस्फोटक अर्धशतक लगाने वाली स्मृति मंधाना को इस मैच में दूसरे ओवर में ही शनिका ब्रूस ने एलबीडब्ल्यू आउट कर दिया। मंधाना ने सात गेंदों पर एक चौका समेत पांच रन ही बना सकीं।

जेमिमा-शेफाली ने भारत को संभाला
स्मृति मंधाना के जल्दी आउट होने के बाद जेमिमा रोड्रिग्ज और शेफाली वर्मा ने दूसरे विकेट के लिए 46 गेंदों पर 71 रन की बड़ी साझेदारी की। शेफाली वर्मा ने 26 गेंदों पर 43 रन बनाए। उनके इस स्कोर में सात चौके और एक छक्का शामिल है। शेफाली का स्ट्राइक रेट 165.38 का रहा। जेमिमा के साथ गलतफहमी के कारण वह रनआउट हो गईं।

हरमनप्रीत-तानिया भाटिया भी नहीं चलीं
शेफाली के आउट होने के कुछ देर बाद ही कप्तान हरमनप्रीत कौर बगैर खाता खोले ही पेवेलियन लौट गईं। उन्हें शकीरा सेलमैन ने एलबीडब्ल्यू कर दिया। हरमनप्रीत के आउट होने के बाद तानिया भाटिया क्रीज पर आईं, लेकिन वह भी ज्यादा देर तक नहीं टिक सकीं। तानिया को मैथ्यूज ने डॉटिन के हाथों कैच कराया। वह 13 गेंद पर छह रन ही बना सकीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!