सत्य पथिक वेबपोर्टल/नई दिल्ली/Indigo’s 55% flights late to hours: इंडिगो एयरलाइंस की सैकड़ों फ्लाइट्स पिछले कुछ दिनों से कई-कई घंटे देरी से उड़ पा रही हैं। 2 जुलाई शनिवार को तो 900 यानी 55% उड़ानें घंटों देरी से उड़ सकीं। यात्रियों की भारी परेशानियों के मद्देनज़र डायरेक्टोरेट ऑफ सिविल एविएशन (DGCA) ने कड़ा संज्ञान लेते हुए Indigo से उड़ानों में हो रही देरी की वजह पूछी है।

केबिन क्रू की अनुपलब्धता के कारण निजी क्षेत्र की विमानन क॔पनी Indigo की अधिकांश उड़ानें पिछले कुछ दिनों से काफी लेटलतीफी की शिकार हैं। 2 जुलाई शनिवार को भी इंडिगो की सैकड़ों उड़ानें लेट हुईं और केवल 45% उड़ानें ही समय पर ऑपरेट हो सकीं।

सबसे खराब इंडिगो का प्रदर्शन
एक दिन में इतनी उड़ानों में देरी की वजह से DGCA ने एयरलाइन से इसके पीछे की वजह पूछी है.  नागरिक उड्डयन मंत्रालय के ताजा आंकड़ों पर निगाह दौड़ाएं तो 2 जुलाई शनिवार को देश भर में विभिन्न विमानन कंपनियों की कुल 2,591 घरेलू और 46 अंतरराष्ट्रीय उड़ानें संचालित हुईं। इन सबकी ऑन-टाइम परफॉरमेंस के मामले में एयर एशिया इंडिया 98.3% गोफर्स्ट 88% विस्तारा 86.3%, स्पाइसजेट 80.4% और एयर इंडिया का 77.1%  टाइम परफोर्मेंस रेट रहा। इनमें सबसे नीचे इंडिगो Indigo थी, जिसका ऑनटाइम परफॉरमेंस सिर्फ 45.2% रिकॉर्ड किया गया। 

घरेलू विमानन सेवा का सबसे बड़ा नेटवर्क है Indigo

घरेलू उड़ानों में इंडिगो का सबसे बड़ा नेटवर्क है। Indigo एयरलाइंस प्रति दिन 1600 से अधिक फ्लाइट्स संचालित करती है। लेकिन शनिवार को इंडिगो की केवल 45 फीसदी फ्लाइट्स ही समय पर ऑपरेट हो सकीं। कुल 900 यानी 55 प्रतिशत घरेलू उड़ानें निर्धारित समय से काफी देरी से संचालित हुईं क्योंकि बड़ी संख्या में केबिन क्रू सदस्य उपलब्ध ही नहीं थे।

इस वजह से हुई क्रू की कमी
उद्योग के सूत्रों ने कहा कि एयर इंडिया की भर्ती प्रक्रिया का दूसरा चरण शनिवार को शेड्यूल था। बीमारी के नाम पर छुट्टी लेकर इंडिगो के अधिकांश केबिन क्रू सदस्य एयर इंडिया की भर्ती में शामिल होने के लिए चले गए थे। इसी वजह से इंडिगो की 900 से अधिक फ्लाइट लेट हो गईं।

टाटा की Air India ने शुरू की है भर्ती प्रक्रिया

पिछले साल आठ अक्टूबर को नीलामी बोली जीतने के बाद टाटा समूह ने 27 जनवरी को एयर इंडिया का नियंत्रण अपने हाथ में ले लिया था। एयर इंडिया ने नए केबिन क्रू सदस्यों के लिए भर्ती प्रक्रिया शुरू की है। यह एयरलाइन अब नए विमान खरीदने, क्रू मेंबर्स बढ़ाने और अपनी यात्री सेवाओं में व्यापक सुधार की योजना बना रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!