सभी पक्षों से लिखित हलफनामे दाखिल करने को कहा

सत्य पथिक वेबपोर्टल/नई दिल्ली/Maharashtra Crisis in SC: महाराष्ट्र के सियासी विवाद के निपटारे के लिए सुप्रीम कोर्ट बड़ी बेंच गठित कर सकता है। बुधवार को केस की सुनवाई के दौरान सीजेआई एनवी रमन्ना ने ऐसे संकेत दिए। उन्होंने कहा कि बड़ी बेंच की जरूरत तो है लेकिन इसके स्वरूप पर विचार कर बेंच गठित करने में कुछ समय लग सकता है। 

मुख्य न्यायाधीश एनवी रमना, जस्टिस कृष्ण मुरारी और हिमा कोहली की पीठ उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाले खेमे और एकनाथ शिंदे खेमे द्वारा दायर याचिकाओं की सुनवाई कर रही है। शिंदे गुट के वकील हरीश साल्वे ने उद्धव गुट की याचिकाओं का जवाब दाखिल करने के लिए एक सप्ताह का समय मांगा। इस पर पीठ ने कहा कि सभी पक्ष अपनी लिखित दलीलें जमा करें। आपस मे चर्चा कर सुनवाई के बिंदुओं का एक ही संकलन जमा करें। इस मामले में अगली सुनवाई अब एक अगस्त को होगी। 

दरअसल, महाराष्ट्र में दोनों खेमे (एकनाथ शिंदे और उद्धव ठाकरे) अपने-अपने विधायकों की विधायकी बचाने के लिए संघर्ष कर रहे हैं। उद्धव खेमे की ओर से शिंदे गुट के 15 विधायकों को अयोग्यता का नोटिस दिए जाने के बाद शिंदे खेमे के स्पीकर की ओर से भी उद्धव खेमे के विधायकों के खिलाफ अयोग्यता की कार्यवाही शुरू की गई है। इन्हीं मामलों पर आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!