सत्य पथिक वेबपोर्टल/मुम्बई/Now bet of Floor Test: महाराष्ट्र विधानसभा में आज सोमवार को नई शिंदे सरकार को Floor Test की असल अग्नि परीक्षा से गुजरना होगा। चुनौती इसलिए भी बड़ी है क्योंकि पहले सूरत, फिर गुवाहाटी और बाद में गोवा में भी 10 दिन तक शिंदे खेमे के साथ मजबूती से डटे रहे दो बागी विधायक नितिन देशमुख और कैलाश पाटिल स्पीकर चुनाव के ऐन मौके पर पलटी मारकर उद्धव गुट के पक्ष में क्राॅस वोटिंग कर ही चुके हैं।

बहरहाल, कल नए स्पीकर राहुल नार्वेकर ने शिंदे को विधानसभा में शिंदे गुट के नेता और भरत गोगावले को चीफ व्हिप के रूप में मान्यता दे दी है। वहीं उद्धव गुट के अजय चौधरी की शिवसेना विधायक दल के नेता की नियुक्ति को स्पीकर ने रद्द कर दिया है। साथ ही सुनील प्रभु को भी चीफ व्हिप के पद से हटा दिया है। अब उद्धव गुट के विधायक अगर नए चीफ व्हिप का आदेश नहीं मानते हैं तो उनके खिलाफ अयोग्यता की कार्रवाई का रास्ता खुल जाएगा।

सीएम शिंदे ने की विधायकों संग मीटिंग
विधानसभा में फ्लोर टेस्ट से पहले रविवार देर रात मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने मुंबई के होटल में ठहरे अपने खेमे के विधायकों के साथ बैठक की। इसमें बीजेपी कोटे से डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस समेत सभी विधायक भी शामिल हुए।

बागी विधायकों की सदस्यता छीनने पर अड़े दोनों गुट
बीजेपी विधायक राहुल नार्वेकर के स्पीकर चुने जाने के बाद अब व्हिप का उल्लंघन करने पर शिंदे गुट के मुख्य सचेतक भारत गोगावाले ने ठाकरे गुट के 16 विधायकों की सदस्यता रद्द करने की स्पीकर से मांग की है तो ठाकरे गुट के चीफ व्हिप सुनील प्रभु ने भी शिंदे गुट के 39 विधायकों की सदस्यता रद्द करने की मांग संबंधी पत्र स्पीकर को सौंपा है।

आज किस गुट को भेजा जाएगा नोटिस?
आज देखने वाली बात होगी कि विधानसभा स्पीकर की ओर से किस गुट के विधायकों को नोटिस भेजा जाएगा? शिंदे गुट की तरफ से कहा गया है कि अगर उद्धव गुट के विधायकों ने फ्लोर टेस्ट में भी शिंदे गुट के खिलाफ वोट दिए तो उनके खिलाफ नोटिस भेजा जाएगा।

इन विधायकों ने वोटिंग में नहीं लिया था हिस्सा 
नवाब मलिक (राकांपा), अनिल देशमुख (राकांपा), नीलेश लंके (राकांपा), दिलीप मोहिते (राकांपा), दत्तात्रेय भराने (राकांपा), बबन शिंदे (राकांपा), अन्ना बंसोडे (राकांपा), लक्ष्मण जगताप (भाजपा), मुक्ता तिलक (भाजपा), प्रणति शिंदे (कांग्रेस), मुफ्ती इस्माइल (एआईएमआईएम), शाह फारुक अनवर (एआईएमआईएम), रमेश लटके (शिवसेना) (निधन), रईस शेख (SP), अबू आजमी (SP), राजेंद्र पाटिल (निर्दलीय) ने स्पीकर चुनाव में वोट नहीं डाले थे जबकि उप सभापति मतदान प्रक्रिया में भाग नहीं ले सकते थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!