सत्य पथिक वेबपोर्टल/कुल्लू-हिमाचल प्रदेश/ हिमाचल प्रदेश के कुल्लू में भारी बारिश के बीच बुधवार सुबह बादल फटने से भारी तबाही मच गई है। कई गांवों में बाढ़ का पानी घुसने और मलबा भरने से तमाम घर तहस-नहस हो गए। साथ ही मणिकर्ण में कई टूरिस्ट कैंप भी बारिश से नष्ट हो गए हैं।

हिमाचल प्रदेश के कुल्लू में बादल फटने से कई प्रोजेक्ट्स को भी नुकसान पहुंचा है। मणिकर्ण में दर्जनों टूरिस्ट कैंप भी डैमेज हो गए हैं।स्थानीय पुलिस ने बताया कि बुधवार को कुल्लू में बादल फटने से मणिकर्ण घाटी में बाढ़ आ गई। फिलहाल हालात बेकाबू हैं। प्रशासन लोगों को सुरक्षित निकालने में लगा हुआ है।

कुल्लू के एसपी गुरदेव शर्मा ने बताया कि जिले में भारी बारिश की वजह से पार्वती समेत कई नदियों का जलस्तर बढ़ गया है। बाढ़ के हालात हैं। मणिकर्ण में दर्जनों टूरिस्ट कैंप और घर डैमेज हो गए हैं। लेकिन टीमें मुस्तैदी से बचाव और राहत कार्य में लगी हुई हैं। बाढ़ में लापता छह लोगों की तलाश की जा रही है। सात घरों को भारी नुकसान पहुंचा है। तीन प्रोजेक्ट्स को भी नुकसान हुआ है। बाढ़ के चलते डैम के पानी को नहीं छोड़ा जा रहा है। लोगों से नदियों के किनारे नहीं जाने की अपील की गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!