सत्य पथिक वेबपोर्टल/लखनऊ/Minister Sanjay Nishad:योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री संजय निषाद भी कानूनी फेर में फंस गए हैं। गोरखपुर की सीजेएम कोर्ट ने संजय निषाद के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया है। उन्हें गिरफ्तार कर 10 अगस्त तक कोर्ट में पेश करने का आदेश जारी हुआ है। 

यह मामला वर्ष 2015 का है। निषाद आरक्षण आंदोलन के दौरान उग्र होने पर संजय निषाद और कुछ अन्य लोगों पर मुकदमा दर्ज हुआ था। संजय निषाद पर भीड़ को भड़काने का आरोप है। अब अदालत ने गोरखपुर की सीजेएम कोर्ट ने संजय निषाद के विरुद्ध गैर जमानती वारंट जारी किया है।
आरोप है कि वर्ष 2015 में सरकारी नौकरियों में निषाद जाति को आरक्षण देने की मांग को लेकर सहजनवां थानाक्षेत्र के कसरवाल में आंदोलन चल रहा था। इस दौरान भीड़ हिंसक हो गई थी। इस आंदोलन में गोली लगने से एक व्यक्ति की मौत हो गई। आरोप लगा कि पुलिस की गोली से उसकी मौत हुई है। इसके बाद आंदोलन और उग्र हो गया था। आंदोलनकारियों ने पुलिस की कई गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया था। इस दौरान वहां मौजूद संजय निषाद पर भीड़ को भड़काने का आरोप लगा था। 21 दिसम्बर 2015 को संजय निषाद ने कोर्ट में सरेंडर किया था। कोर्ट के आदेश पर उन्हें जेल भेज दिया गया था। 2016 में वह जमानत पर बाहर आए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!