सत्य पथिक वेबपोर्टल/मुंबई-नई दिल्ली/Sanjay Raut send 4 day ED custody: शिवसेना सांसद संजय राउत को PMLA कोर्ट से राहत नहीं मिली है। कोर्ट ने दोनों पक्षों के वकीलों की दलीलें सुनने के बाद राउत को 4 अगस्त तक ईडी की कस्टडी में भेज दिया है। ईडी ने 8 दिन की रिमांड मांगी थी। कोर्ट में पेशी से पहले संजय राउत का मेडिकल टेस्ट भी कराया गया। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने संजय राउत को रविवार को पात्रा चॉल घोटाले में मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़े मामले में गिरफ्तार किया था। उधर, संजय राउत की गिरफ्तारी को लेकर संसद के दोनों सदनों में आज खूब हंगामा हुआ।

PMLA कोर्ट ने 4 दिन की रिमांड मंजूर करते हुए कहा कि इस दौरान राउत को अपने वकीलों से बात करने की सुविधा दी जाएगी। ईडी को राउत की दवाइयों आदि का ध्यान रखना होगा और पूछताछ के घंटे भी तय करने होंगे। सुनवाई के दौरान कोर्ट में संजय राउत के वकील अशोक मुंदर्गी (Ashok Mundargi) ने गिरफ्तारी को राजनीतिक साजिश बताया। हाल ही में हार्ट की सर्जरी होने का हवाला दिया और अस्पताल के पर्चे भी कोर्ट में दिखाए।

मरना मंजूर, लेकिन शरण में नहीं जाऊंगा: उद्धव

संजय राउत के खिलाफ जारी ईडी की कार्रवाई के बीच उद्धव ठाकरे संजय राउत के घर जाकर उनके परिवार के सदस्यों से मिले और हौसला बढ़ाया। कहा- “राउत पर गर्व है। वक्त बदलता रहता है। जब हमारा वक्त आएगा तो सोचिए आपका (भाजपा) क्या होगा? अब महाराष्ट्र की जनता फैसला करेगी। मुझे मरना मंजूर है, लेकिन मैं किसी की शरण में नहीं जाऊंगा।”

महाराष्ट्र में पॉलिटिकल सर्कस चल रहा- आदित्य ठाकरे

संजय राउत की गिरफ्तारी पर पूर्व मुख्य मंत्री उद्धव ठाकरे के पुत्र आदित्य ठाकरे ने कहा- “महाराष्ट्र में जो कुछ भी हो रहा है, वह लोकतंत्र के खिलाफ और पॉलिटिकल सर्कस है।”

विपक्ष मुक्त संसद चाहती है बीजेपी: खड़गे

कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा, “बीजेपी विपक्ष मुक्त संसद चाहती है। इसीलिए संजय राउत पर कार्रवाई की गई। हम महंगाई, गुजरात में शराब से मौतों और झारखंड में ‘ऑपरेशन कीचड़’ जैसे मुद्दा संसद में जरूर उठाएंगे।”

अधीर रंजन बोले-झुके नहीं राउत, यही अपराध

कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा, “संजय राउत ने एक ही अपराध किया है कि वह भाजपा की डराने-धमकाने की राजनीति के सामने नहीं झुके। राउत दृढ़ निश्चयी और साहसी व्यक्ति हैं। हम उनके साथ हैं।”

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!