सत्य पथिक वेबपोर्टल/बरेली/Dharna: उ0प्र0 प्राथमिक शिक्षक संघ के बैनर तले मंगलवार को बरेली के चौकी चौराहा स्थित सेठ दामोदर स्वरूप पार्क में पुरानी पेंशन बहाली की मांग को लेकर धरना दिया गया।

धरना प्रदर्शन का नेतृत्व प्राथमिक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष नरेश गंगवार ने किया। जिला मंत्री सत्यप्रकाश गंगवार, जिला कोषाध्यक्ष) योगेश गंगवार और जिला संयुक्त मंत्री तपन मौर्य जी समेत सभी शिक्षक नेताओं ने अपने भाषण में पुरानी पेंशन के फायदे गिनाए। सबने इसकी फौरन बहाली पर जोर देते हुए एकस्वर से कहा कि हमे पुरानी पेंशन ही चाहिए। धरने में अन्य संगठनों से जुड़े शिक्षकों ने भी भाग लिया और इसे सफल बनाते हुए पुरानी पेंशन बहाली की मांग का पूरी ताकत से समर्थन किया।

धरनास्थल पर सभा में प्राथमिक शिक्षक संघ फतेहगंज पश्चिमी ब्लॉक अध्यक्ष हरीश कुमार गंगवार ने कहा कि सरकार जब अपने विधायकों को कई पेंशन दे सकती है तो शिक्षकों-कर्मचारियों को एक पेंशन भी क्यों नहीं दे सकती? अन्य वक्ताओं ने कहा कि कई राज्यों ने पुरानी पेंशन लागू भी कर दी है तो अपने उत्तर प्रदेश में ऐसी क्या मजबूरी है जो यहां पुरानी पेंशन लागू नही हो सकती? उत्तर प्रदेश के शिक्षक- कर्मचारी भी अब शांत होकर बैठने वाले नहीं हैं। पुरानी पेंशन हम लोगो का हक है और हम लोग इसे लेकर ही रहेंगे।

आज धरना में शामिल होने वालों में अटेवा के जिला अध्यक्ष सहित विभिन्न पदाधिकारी, महिला शिक्षक संघ की जिला अध्यक्ष सहित विभिन्न पदाधिकारी, जूनियर शिक्षक संघ एवं अन्य शिक्षक संगठनों के भी पदाधिकारी एवं सदस्य शामिल हुए। ऐलानिया कहा गया कि पुरानी पेंशन को लेकर सभी शिक्षक-कर्मचारी स॔गठन एकमत हैं। जब तक सरकार पुरानी पेंशन लागू नहीं कर देती, हममें से कोई भी चैन से बैठने वाला नहीं है। अपर जिलाधिकारी ने धरना स्थल पर पहुंचकर बरेली मुख्यमंत्री,प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति को सम्बोधित ज्ञापन प्राप्त किया गया। धरना प्रदर्शन में फतेहगंज पश्चिमी ब्लॉक से जिला कोषाध्यक्ष योगेश गंगवार,अखिलेश गंगवार (अध्यक्ष जूनियर शिक्षक संघ), प्रेमपाल गंगवार, सूरज गंगवार,अमित यादव, नीरेश गुप्ता, प्रमोद कुमार, वीरेंद्र किशोर, प्रांजल शुक्ल, शैलेंद्र सिंह, अकरम मियां, सुनील कुमार, सुनील यादव, हिमांशु, लोकेश गंगवार, भगवानदास, गोपाल कृष्ण, अनुराग आनंद, जितेंद्र सक्सेना, धर्मवीर, नितिका सक्सेना, मोनिका जुनेजा सहित फतेहगंज पश्चिमी ब्लॉक समेत जिले भर से सैकड़ों शिक्षकों ने आज धरने में भाग लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!