बरेली/development/सत्य पथिक न्यूज नेटवर्क: नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन मंगलवार रात करीब आठ बजे सर्किट हाउस पहुंचे। उन्होंने शहर के विकास के दो बड़े प्रोजेक्ट कुतुबखाना और सुभाषनगर ओवरब्रिज का निर्माण जल्द कराने का भरोसा दिया। इसके साथ ही नगर निगम की आमदनी बढ़ाने के लिए भवनों के कराए जा रहे सर्वे के बारे में भी जानकारी दी।

महापौर डॉ. उमेश गौतम, नगर आयुक्त अभिषेक आनंद ने सर्किट हाउस पर नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन का स्वागत पुष्प गुच्छ भेंट कर किया। मंत्री ने पहुंचने के बाद भाजपा पदाधिकारियों और अधिकारियों के साथ बैठक की। सीवर लाइन डालने को लेकर सड़कों की खुदाई से बदहाल हुए शहर के सवाल पर बोले, विकास के लिए यह जरूरी है। अगले कुछ दिनों में इस समस्या से निजात दिलाने का भी वायदा किया।

नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन ने बताया, स्मार्ट सिटी योजना के तहत शहर में कुतुबखाना फ्लाईओवर और सुभाषनगर पुलिया पर ओवरब्रिज का निर्माण जल्द कराया जाएगा। उन्होंने बताया कि अमृत योजना के तहत प्रदेश के 60 शहरों में जियोग्राफिकल इंफॉरमेशन सिस्टम (जीआइएस) बेस सर्वे कराया जा रहा है। केंद्र की टीम सर्वे कर नगर निगमों को सौंप रही हैं। इससे निश्चित तौर पर नगर निगम में नए भवनों को शामिल किया जाएगा, जिससे निगम की आमदनी में इजाफा होगा।

बाकी सात बड़े शहरों को स्टेट स्मार्ट सिटी का दर्जा

नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन ने बताया कि स्मार्ट सिटी मिशन में बरेली समेत प्रदेश के दस शहरों को चुना गया है। बरेली चौथे चरण में चुना गया। प्रदेश में 17 नगर निगम हैं। दस शहर स्मार्ट सिटी बन रहे हैं। इनके लिए केंद्र और राज्य सरकार पांच साल तक हर साल सौ-सौ करोड़ रुपये इन नगर निगमों को मुहैया कराएंगी। प्रदेश के बचे हुए सात नगर निगमों काे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने स्टेट स्मार्ट सिटी बनाने के लिए चुना है। इनमें शाहजहांपुर, अयोध्या, मथुरा, गाजियाबाद, मेरठ, गोरखपुर और फिरोजाबाद शामिल हैं। इन शहरों के विकास के लिएभी  50-50 करोड़ रुपये दिए जा चुके हैं। इस बड़ी रकम से इन सातों शहरों में ढेर सारे  विकास कार्य कराए जा सकेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!