सत्य पथिक वेबपोर्टल/लखनऊ/politics: यूपी में लोकसभा उप चुनाव और इससे पहले विधानपरिषद चुनाव में करारी हार के बाद सुभासपा अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर की तल्ख बयानबाजी से समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) गठबंधन में दरारें पड़तीं अब साफ दिख रही हैं।

लोकसभा उप चुनाव में सपा की हार के बाद सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) पर ओम प्रकाश राजभर (Om Prakash Rajbhar) खुले तौर पर जुबानी हमले करते रहे हैं। उन्होंने सपा प्रमुख को एसी कमरे से बाहर निकलकर जनता के बीच सड़क पर आने की नसीहत तक दे डाली। इस पर अखिलेश यादव ने भी कह दिया कि सपा को किसी की नसीहत की जरूरत नहीं है।

इन्हीं बयानबाजियों के बीच 7 जुलाई गुरुवार को सपा गठबंधन के विधायक दलों की बैठक में राजभर को बुलाया ही नहीं गया। अब राजभर ने भी मऊ में अपनी पार्टी की आपात बैठक बुलाई है। इस बैठक में गठबंधन के भविष्य को लेकर भी फैसला हो सकता है। इसके साथ ही राजभर ने अभी से 2024 के लोकसभा चुनाव में पांच सीटों पर अपनी पार्टी के प्रत्याशियों को उतारने का भी ऐलान कर दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!