काबुल/Violence in Kabul/सत्य पथिक न्यूज नेटवर्क: काबुल एयरपोर्ट के पास भीड़ में मौजूद कम से कम सात अफगानी नागर‍िक तालिबान की गोलीबारी में मारे गए हैं। भीड़ में शामिल लोग हिंसाग्रस्त मुल्क से बाहर निकलने के लिए एयरपोर्ट के अंदर घुसने की कोशिश कर रहे थे। ब्रिटिश रक्षा मंत्रालय ने रविवार को दिए ताजा बयान में यह दावा किया है। उधर, भगदड़ में भी दर्जन भर लोगों की मौत की खबर है।



ब्रिट‍िश रक्षा मंत्रालय ने कहा है, ‘अफगानिस्‍तान में जमीन पर स्थितियां बेहद चुनौतीपूर्ण हैं। हमारी संवेदना उन सात अफगान नागरिकों के परिवारों के साथ है जो काबुल में भीड़ में दुखद हालात में मारे गए हैं।


काबुल एयरपोर्ट पर थम नहीं रही हिंसा

गौरतलब है कि अफगानिस्‍तान में तालिबान के कब्‍जे को लेकर सोशल मीडिया पर कई वीडियो शेयर किए जा रहे हैं। उनमें से एक वीडियो में तालिबान के डर से देश छोड़कर भाग रहे लोगों को भी दिखाया गया है। एक वीडियो में काबुल एयरपोर्ट पर जारी हिंसा, अराजकता और हताशा को दर्शाया गया है।

तालिबान लड़ाके अफगानों की भारी भीड़ को कांटेदार तारों की बाड़ से रोकने की कोशिश करते हैं। हवाई फायरिंग भी करते हैं। छोटे बच्चे और महिलाएं एयरपोर्ट में घुसने देने की गुहार लगा रहे हैं। इन लोगों की मुख्य समस्या यह है कि कंटीले तारों की बाड़, तालिबान की गोलीबारी, ऊंचे-मजबूत फौलादी फाटकों को पार करके रनवे पर खड़े विमानों तक कैसे पहुंचा जाए?

भगदड़ में दर्जन भर लोगों की मौत

कई रिपोर्टों के अनुसार काबुल एयरपोर्ट पर भगदड़ में कम से कम एक दर्जन लोग मारे गए हैं और दर्जनों गंभीर घायल हो गए हैं। दरअसल काबुल एयरपोर्ट की तरफ जाने वाली सभी सड़कों पर मुल्क से पलायन को मजबूर हजारों लोगों की भीड़ है। हजारों अन्य लोग राजधानी के एकमात्र पासपोर्ट कार्यालय के बाहर किलोमीटर तक लंबी कतारों में कई-कई घंटे खड़े होकर वीजा-पासपोर्ट जैसे यात्रा दस्तावेज बनवाने की कोशिश में जुटे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!