सत्य पथिक वेबपोर्टल-एजेंसियां/नई दिल्ली-मुंबई/strategy to capture ShivSena: शिवसेना एकनाथ शिंदे धड़े ने भारत निर्वाचन आयोग (ECI) को पत्र लिखकर पार्टी का चुनाव चिन्ह धनुष-बाण उसे आवंटित करने की मांग की है।

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, चुनाव आयोग को भेजे एक पत्र में शिंदे गुट ने लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला और महाराष्ट्र विधानसभा अध्यक्ष राहुल नार्वेकर द्वारा दी गई मान्यता का हवाला देते हुए असली शिवसेना होने का दावा किया है।

महाराष्‍ट्र विधानसभा और लोकसभा में मिली मान्‍यता

महाराष्ट्र में शिवसेना के 55 में से कम से कम 40 विधायकों ने बागी नेता एकनाथ शिंदे को समर्थन देने की घोषणा की है, जिन्होंने 30 जून को राज्य के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली थी। एकनाथ शिंदे ने मंगलवार को लोकसभा में राहुल शेवाले को पार्टी का फ्लोर लीडर और भावना गवली को मुख्य सचेतक बनाने की घोषणा की। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने राहुल शेवाले को लोकसभा में शिवसेना के नेता के रूप में मान्यता दे भी दी है। पिछले महीने शिवसेना विधायक दल में विभाजन के बाद उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली शिवसेना को मंगलवार को एक नया झटका लगा था, जब उनके 19 में से 12 लोकसभा सदस्यों ने मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे को अपना समर्थन दे दिया।

महाराष्‍ट्र में जल्‍द होने हैं स्थानीय निकायों के चुनाव

चुनाव चिन्‍ह पर दावा इसलिए महत्वपूर्ण है क्योंकि सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को महाराष्ट्र राज्य चुनाव आयोग को स्थानीय निकायों के चुनावों को दो सप्ताह के भीतर अधिसूचित करने का निर्देश दिया है। महाराष्ट्र में बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) सहित कई नगर निकायों में चुनाव होने हैं। इन चुनावों से साफ हो जाएगा कि शिवसेना के किस गुट को महाराष्ट्र की जनता का समर्थन हासिल है। इससे पहले शिवसेना के उद्धव ठाकरे धड़े ने चुनाव आयोग को पत्र लिखकर अनुरोध कहा था कि पार्टी के नाम और उसके चुनाव चिह्न पर दावों पर कोई भी निर्णय लेने से पहले उसकी दलीलों को भी जरूर सुना जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!