सत्य पथिक वेबपोर्टल/लखनऊ/OP Rajbhar & Shivpal Yadav reached in CM Yogi’s dinner party: समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव और राष्ट्रपति चुनाव में विपक्ष के कैंडिडेट यशवंत सिन्हा को सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर और प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने तगड़ा झटका दे दिया है।

ये दोनों नेता एनडीए की राष्ट्रपति कैंडिडेट द्रौपदी मुर्मू के सम्मान में सीएम योगी आदित्यनाथ द्वारा आयोजित डिनर पार्टी में शरीक हुए। इस पार्टी में रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया ने भी शिरकत की। राजभर ने सपा-सुभासपा का गठबंधन टूटने के साफ संकेत दिए हैं लेकिन पहल वो नहीं करेंगे और अखिलेश को गठबंधन तोड़ने का मौका देंगे।

यशवंत सिन्हा जब वोट मांगने लखनऊ आए थे तो अखिलेश यादव ने आरएलडी नेता जयंत चौधरी को तो बुलाया लेकिन ओम प्रकाश राजभर को नहीं बुलाया था। उसके बाद राजभर कह चुके हैं कि ऐसा लगता है कि अखिलेश को अब उनकी जरूरत नहीं है। राजभर ने ताजा-ताजा बयान दिया है कि वो अखिलेश की तरफ से तलाक देने का इंतजार करेंगे और अपनी तरफ से गठबंधन तोड़ने की पहल नहीं करेंगे। राजभर ने दिन में कहा था कि राष्ट्रपति चुनाव में वो क्या करेंगे, समय पर पता चल जाएगा।

अखिलेश के चाचा शिवपाल सिंह यादव भी लंबे समय से नाराज ही चल रहे हैं। विधानसभा चुनाव के बाद सपा में अपने लिए भूमिका तलाश रहे शिवपाल को अखिलेश ने गठबंधन के सहयोगी दल के नेता के तौर पर लिया। अखिलेश के लिए एक साथ शिवपाल और राजभर दोनों का झटका तगड़ा साबित होगा। दोनों नेताओं के बीजेपी कैंप में जाने से राज्य की राजनीति पर भी असर होगा।

इससे पहले लखनऊ के लोक भवन में भाजपा और सहयोगी दलों के सांसद-विधायकों के साथ बैठक में मंच पर राष्ट्रपति पद की एनडीए प्रत्याशी द्रोपदी मुर्मू के साथ सीएम योगी आदित्यनाथ, केंद्रीय मंत्री डॉक्टर महेंद्र नाथ पांडे, स्मृति ईरानी, गजेंद्र सिंह शेखावत, उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, बृजेश पाठक, प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह नजर आए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!