सत्य पथिक वेबपोर्टल/बरेली/water conservation: सामाजिक संस्था विकल्प द्वारा क्यारा ब्लाक के सहसिया गांव में भूगर्भ जल संचयन के निमित्त तालाब निर्माण के लिए चल रहे श्रमदान के अंतिम दिन अमित पंत के नेतृत्व में सिविल डिफेंस तथा डॉ. प्रदीप कुमार के नेतृत्व में जागर संस्था के साथियों ने भी श्रमदान किया। सभी लोग संस्था द्वारा वर्ष 2016 में पुनर्जीवित किए गए तालाब को देखने भी गये।

डिप्टी डिवीजन वार्डन अमित पंत ने श्रमदान कार्यक्रम की सराहना करते हुए कहा कि श्रमदान के साथ-साथ गांव के बच्चों की टीम जल गुल्लक का गठन कर उनको प्रशिक्षित कर राज नारायण जी ने भविष्य में ऐसे अनेक तालाब तैयार करने की भूमिका रख दी है। पर्यावरण प्रेमी डॉ. प्रदीप ने गिरते भूजल स्तर को बरकरार रखने के लिए विकल्प संस्था की इस पहल की प्रशंसा की और तालाब के चारों और विकसित होने वाले पंडित राम प्रसाद बिस्मिल पार्क में वृक्षारोपण के लिए आने का वायदा भी किया। गौरव सेनानी संगठन के शिशुपाल मौर्य ने गांव के बच्चों की टीम जल गुल्लक को देश भक्ति के गीत याद कराए।

संस्थाध्यक्ष राज नारायण ने बताया कि जितना गहरा तालाब खोद लिया गया है उससे ही लाखों लीटर पानी भूगर्भ में प्राकृतिक रूप से स्वच्छ होकर पहुंच जाएगा। राज नारायण ने आगंतुकों का आभार व्यक्त करते हुए पिछले 40 दिनों से चल रहे नियमित श्रमदान कार्यक्रम के समापन की घोषणा की और कहा कि पार्क विकसित करने के लिए साप्ताहिक श्रमदान जारी रहेगा।

राज नारायण ने गांव के वेटलैंड को डंपिंग ग्राउंड में तब्दील कर कूड़ा डलवाने के लिए नगर निगम की आलोचना की और कहा कि नगर निगम अविलंब यहां से कूड़ा वापस उठा ले, नहीं तो हमें भी गांव के बच्चों के साथ सत्याग्रह पर बैठना होगा। आज के श्रमदान कार्यक्रम में हरीश भल्ला, श्रीमती गीता शर्मा, साबिर सहन खान, सुनील वर्मा, विशाल सक्सेना, लवनीश भटनागर, नीरज संघर्षी, निशी, पूर्णिमा, नीलम अग्रवाल, कृतिका, करिश्मा, सविता गोपाल तथा गांव के 25 से अधिक बच्चों ने भाग लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!