नई दिल्ली/corona 2nd Wave/सत्य पथिक न्यूज नेटवर्क: भारत में इस बार कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर की रफ्तार अमेरिका से भी तेज है। स्थिति भयावह होती जा रही है। देश एक बार फिर लॉकडाउन के मुहाने पर खड़ा है। बीते 24 घंटों में रविवार को रिकॉर्ड 93 हजार से ज्यादा नए कोरोना के मरीज मिले हैं। वहीं कोरोना संक्रमण के चलते 500 से ज्यादा की जान चली गई है। एक दिन में मिलने वाले कोरोना संक्रमित मरीजों की बात करें, तो इससे पहले पिछले साल, 19 सितंबर को 92,574 नए केस मिले थे।

स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से रविवार को जारी किए गए ताजा आंकड़ों ने लोगों की चिंता बढ़ा दी है। बीते 24 घंटों में रिकॉर्ड बढ़ोतरी के साथ कोरोना संक्रमण के 93,249 नए मामले दर्ज किए गए हैं और 513 मरीज कोरोना से जिंदगी की जंग हार गए। इसी के साथ देश में संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 1,24,85,509 पहुंच गए हैं और कोविड से मरने वालों की संख्या 1,64,623 हो गई।

शनिवार को हुई थीं 714 मौतें

बता दें कि इससे एक दिन पहले शनिवार 3 अप्रैल को 89,129 से अधिक कोरोना के नए मरीज मिले थे और 714 लोगों की मौत हुई थी। यह रफ्तार पिछले साल के अमेरिका में कोरोना की तबाही से भी ज्यादा तेज है। हालांकि शनिवार की तुलना में रविवार को कोरोना संक्रमण के नए दैनिक मामलों में तो वृद्धि हुई है, लेकिन मौतों की संख्या में गिरावट आई है।

पहली लहर की पीक के करीब नए केस

देश में कोरोना की पहली लहर का पीक पिछले साल 15-16 सितंबर को था, जब 97 हजार से अधिक नए केस सामने आए थे। इसके बाद यह आंकड़ा लगातार कम होता गया था। इस साल 15 फरवरी के बाद एक बार फिर संक्रमण ने रफ्तार पकड़ ली, जोकि पीक आंकड़ों को छूने के बेहद करीब है। शुक्रवार से लगातार कोरोना के नए मामले 80 हजार के पार आ रहे थे, जो आज 93 हजार से अधिक पहुंच गए हैं।विशेषज्ञों ने आशंका जताई है कि रोजाना के आंकड़ों में अभी बड़ा इजाफा होगा।
 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!