Tag: shayari ghazal poem kavya writing

“गुलों को प्यार जो करते वो काँटो से नहीं डरते
क्यों न राहों में काँटो की जहाँ दीवार बन जाए”

Bareilly /Fatheganj West/काव्य/ग़ज़ल/रचनाकार/ सत्यपथिक न्यूज़ नेटवर्क आशिक़ी के समंदर में पीर पतवार बन जाएकहा किसने कि कोई नाख़ुदा दिलदार बन जाए। मरीजे इश्क़ को बस आशियाँ तिनकों का काफ़ी हैंमहल…

“अगर चिराग़ हैं बेटे तो मुस्कान हैं बेटियाँ”

Bareilly/ pilibhit: सत्य पथिक न्यूज नेटवर्क :ghazal, shayari, ahsaas, kavya page घर का चिराग़ होते हैं बेटे, तो घर की मुस्कान होती है बेटियाँमाँ का दुलार पिता की परछाई होती है…

“पर आंखों में पानी तुमसे है”

Bareilly/ pilibhit: सत्य पथिक न्यूज नेटवर्क :ghazal, shayari, ahsaas, kavya page “पहला एहसास “हे मेरी जिंदगी के हमसफर मेरी धड़कनों की रवानी तुमसे है,तेरी हर खुशी से हर खुशी मेरी…

error: Content is protected !!