सत्य पथिक वेबपोर्टल/कोलंबो/public anger’s Tsunami in colombo: राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे के देश छोड़कर भागने के बाद श्रीलंका में जनाक्रोश की सुनामी विकराल होती जा रही है। हजारों की उग्र भीड़ बुधवार को पीएम आवास, संसद भवन पर धावा बोलने के बाद सरकारी न्यूज चैनल के दफ्तर में भी घुस गई। एक प्रदर्शनकारी वहां न्यूज एंकर की तरह लाइव आकर बोलने लगा। इसके बाद टीवी चैनल का प्रसारण बंद करना पड़ा।

श्रीलंका चार दिन बाद बुधवार को फिर उबाल पर है। राष्ट्रपति गोटबाया के देश छोड़ने से गुस्साई जनता राजधानी कोलंबो की सड़कों पर उतर आई है। पुलिस ने हजारों की उग्र भीड़ को संसद भवन और पीएम हाउस में घुसने से रोकने की बहुतेरी कोशिश की। वाटर गन से पानी की तेज बौछार की, आंसू गैस छोड़ी और डराने-भगाने के लिए हवा में 10-12 राउंड फायर भी किए. लेकिन कोई असर नहीं हुआ।

श्रीलंका संकट के बड़े अपडेट्स-

  • श्रीलंका के राष्ट्रपति गोटाबाया राजपक्षे बुधवार तड़के वायुसेना के प्लेन से मालदीव पहुंच गये हैं। राजपक्षे के साथ उनकी पत्नी और 10 खास लोग भी हैं। मालदीव से राजपक्षे दुबई जा सकते हैं। अब तक राष्ट्रपति पद से इस्तीफा नहीं दिया है। शायद दुबई से आगे अपने असल ठिकाने पर पहुंचकर ही इस्तीफा देंगे।
  • गोटाबाया बिना इस्तीफा दिये मालदीव भागे हैं। इससे प्रदर्शनकारी ज्यादा नाराज हैं क्योंकि नई सरकार के गठन का काम अटक गया है।
  • प्रदर्शनकारी सुरक्षा घेरा तोड़कर पीएम हाउस में भी घुस गए। ये लोग पीएम रानिल विक्रमसिंघे का भी इस्तीफा मांग रहे थे। उनका निजी आवास प्रदर्शनकारियों ने पहले ही फूंक दिया था।
  • आज प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे को संसद के स्पीकर ने कार्यकारी राष्ट्रपति नियुक्त कर दिया है।
  • उग्र प्रदर्शन के बीच रानिल विक्रमसिंघे की तरफ से यू-टर्न भी लिया गया कार्यकारी राष्ट्रपति बनने से पहले उनकी तरफ से बयान आया कि श्रीलंका में आपातकाल लगाया जा रहा है. लेकिन कुछ देर बाद ही कहा गया कि आपात्काल नहीं लगा है।
  • उग्र भीड़ ने आज श्रीलंका के सरकारी न्यूज चैनल Jathika Rupavahini पर भी कब्जा कर लिया। प्रदर्शनकारी चैनल के दफ्तर में घुस गए।एक प्रदर्शनकारी स्टूडियो में एंकर की सीट पर जा बैठा और अपनी बातें रखने लगा। बाद में टीवी चैनल का प्रसारण रोक दिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!