सत्य पथिक वेबपोर्टल/बर्मिंघम-इंग्लैंड/India in CWG:
22वें कॉमनवेल्थ गेम्स के आठवें दिन शुक्रवार को भारतीय पहलवानों Indian Wrestlers पर खूब सोना बरसा। करोडों भारतीय की उम्मीदों पर खरा उतरते हुए फाइनल में पहुंचे चार में से तीन रेसलर्स-बजरंग पूनिया, साक्षी मलिक और दीपक पूनिया ने तीन स्वर्ण पदक भारत की झोली में डाले तो चौथे पहलवान अंशु मलिक भी फाइनल में हारकर भी रजत पदक दिलाने में कामयाब रहे। सिर्फ इतना ही नहीं, कुश्ती में ही भारत के खाते में दिव्या काकरान और मोहित ग्रेवाल ने भी दो और कांस्य पदक जोड़ दिए। इस तरह बर्मिंघम में आठवें दिन रेसलर्स के जलवे और इन छह पदकों की बदौलत भारत के कुल पदकों की संख्या बढ़कर अब 26 हो चुकी है इनमें 9 गोल्ड शामिल हैं।

22वें राष्ट्रमंडल खेलों की पदक तालिका में भारत
भारत ने शुक्रवार को आठवें दिन छह मेडल हासिल किए जिससे वह दो पायदान की छलांग लगाकर मेडल टैली में सातवें से पांचवें स्थान पर आ गया है। भारत के नाम नौ गोल्ड, आठ सिल्वर एवं नौ ब्रॉन्ज मेडल हैं। मेडल टैली में 50 गोल्ड, 44 सिल्वर और 46 ब्रॉन्ज के साथ ऑस्ट्रेलिया टॉप पर है। वहीं मेजबान इंग्लैंड 47 गोल्ड मेडल हासिल कर दूसरे एवं कनाडा 19 स्वर्ण पदक के साथ तीसरे स्थान पर है। न्यूजीलैंड भारत से एक स्थान ऊपर चौथे नंबर पर है।

बजरंग पूनिया ने जीता कुश्ती का पहला गोल्ड
बजरंग पूनिया ने भारत के लिए गोल्ड मेडल जीत लिया है। पुरुषों की फ्रीस्टाइल 65 किलो भारवर्ग कुश्ती के फाइनल में बजरंग पूनिया ने कनाडा के एल. मैकलीन को 9-2 से धूल चटा दी। पहले हाफ में बजरंग ने चार अंक लिए। दूसरे हाफ में मैकलीन ने दो प्वाइंट लेकर वापसी की कोशिश की लेकिन बजरंग ने और कोई मौका नहीं दिया।

देशवासियों की उम्मीदों पर खरी उतरीं साक्षी भी

साक्षी मलिक ने कुश्ती में भारत को दूसरा गोल्ड मेडल दिलाया। वीमेन्स 62 किलो भारवर्ग के फाइनल में साक्षी मलिक ने कनाडा की एना गोडिनेज गोंजालेज को बाय फॉल (By Fall) के जरिए 4-4 से मात दी। साक्षी मलिक एक समय 4-0 से पीछे चल रही थीं लेकिन एक ही दांव में उन्होंने कनाडाई खिलाड़ी को चित कर दिया।

दीपक पूनिया ने भी बटोरा सोना

दीपक पूनिया ने भी निराश नहीं किया। उन्होंने मेन्स फ्रीस्टाइल कुश्ती के 86 किलो भारवर्ग के फाइनल मुकाबले में पाकिस्तानी रेसलर मोहम्मद इनाम को 3-0 से मात दी और कुश्ती में भारत को तीसरा गोल्ड मेडल दिलाया।

दिव्या काकरान ने वूमेन्स फ्रीस्टाइल कुश्ती के 68 किलो भारवर्ग में ब्रॉन्ज मेडल मुकाबले में टोंगा की टाइगर लिली कॉकर लेमाली को बाय फॉल (By Fall) के जरिए 2-0 से मात दी। उधर मोहित ग्रेवाल ने जमैका के एरॉन जॉनसन को बाय फॉल के ही जरिए 0-6 से रौंद ़डाला।

अंशु मलिक को मिला सिल्वर
अंशु मलिक का वूमेन्स 57 किलो भारवर्ग के फाइनल में सामना नाइजीरिया की ओडुनायो फोलासाडे से था लेकिन अंशु अपना बेस्ट प्रदर्शन नहीं कर पाईं और उन्हें 3-7 से हार का सामना करना पड़ा। अंशु ने आखिरी सेकेंड्स में कुछ अंक जुटाकर वापसी की कोशिश की लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी। अंशु को सिल्वर मेडल से ही संतोष करना पड़ा है। उधर ओडुनायो का यह लगातार तीसरा गोल्ड मेडल रहा।

चारों रेसलर्स के फाइनल तक का सफर: एक नज़र में
बजरंग पूनिया ने पुरुषों की फ्रीस्टाइल 65 किलो भारवर्ग प्रतिस्पर्धा के सेमीफाइनल में बजरंग ने तकनीकी श्रेष्ठता के आधार पर से इंग्लैंड के जॉर्ज राम को 10-0 से हराया। इससे पहले बजरंग ने क्वार्टर फाइनल मुकाबले में मॉरीशस के जीन गुइलियान जोरिस बंडो और प्री-क्वार्टरफाइनल में नौरु के लोए बिंघम को आसानी से मात दी थी।

दीपक पूनिया ने 86 किलो भारवर्ग के  सेमीफाइनल में कनाडा के अलेक्जेंडर मूरे को 3-1 से मात दी थी। अंतिम-8 में सिएरा लियोन के शेकू कासेगबामा को तकनीकी श्रेष्ठता के आधार पर 10-0 से हराया जबकि प्री-क्वार्टरफाइनल में वह न्यूजीलैंड के मैथ्यू ऑक्सेनहम पर हावी रहे।

रियो ओलंपिक की ब्रॉन्ज मेडलिस्ट साक्षी मलिक ने वूमेन्स 62 किलो भारवर्ग के क्वार्टर फाइनल में इंग्लैंड की केल्सी बार्न्स को तकनीक श्रेष्ठता के आधार पर हराया था। सेमी फाइनल में भी तकनीकी श्रेष्ठता के आधार पर कैमरून की एटेन नोगोले 10-0 से शिकस्त दी थी।

वहीं अंशु मलिक ने महिला फ्रीस्टाइल के 57 किलो भारवर्ग के सेमीफाइनल में तकनीकी श्रेष्ठता के आधार पर श्रीलंका की नेथमी पोरुथोटेज को 10-0 हराया। क्वार्टर फाइनल में भी तकनीकी श्रेष्ठता के ही आधार पर ऑस्ट्रेलिया की आइरीन सिमोनिडिस के खिलाफ 10-0 से जीत दर्ज की थी।

फाइनल में पहुंचने से चूके दिव्या-मोहित
दिव्या काकरान वूमेन्स 68 किलो भारवर्ग में नाइजीरिया की ओबोरुडुडु ब्लेसिंग से क्वार्टरफाइनल में ही हार गईं. लेकिन बाद में ब्लेसिंग फाइनल में पहुंच गईं जिसके चलते दिव्या को रेपचेज राउंड खेलने का मौका मिला। मोहित ग्रेवाल (125 किलो) सेमीफाइनल में हार के बाद कांस्य पदक के मुकाबले में उतरे थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!